*जंगल में कड़ी धूप में तड़पते असहाय बुजुर्ग को पहुंचाया सामुदायिक स्वस्थ केंद्र

*जंग

ल में कड़ी धूप में तड़पते असहाय बुजुर्ग को पहुंचाया सामुदायिक स्वस्थ केंद्र*

*राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग एवम पुलिस प्रशासन का रहा सराहनीय सहयोग*

झकनावदा (निप्र) – पिछले 3 दिनों से सेमलिया से 2 किलोमीटर दूर रोकडिया हनुमान जी मार्ग पर जंगल में तेज धूप में बिलख रहे एक असहाय बुजुर्ग जोकि एक गड्ढे में गिरा हुआ था। जिसको ग्रामीणों ने खाना और पानी की व्यवस्था तो की लेकिन वहां खाना खाने व पानी पीने में असमर्थ था । जिसको देख मुकेश बर्फा सेमलिया के ने राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के प्रतिनिधि प्रदेश अध्यक्ष मनीष कुमट (जैन) को उक्त जानकारी देते हुए बताया कि वह बुजुर्ग मुख से बोलने में भी असमर्थ है वह कुछ नाम पते बता नहीं पा रहा है। जिसके बाद कुमट ने झकनावदा चौकी प्रभारी जीएस मावी एवं एएसआई बीएस बिलोरे से इस विषय पर चर्चा की व साथ ही पेटलावद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर एम एल चोपड़ा से उक्त अज्ञात बुजुर्ग की हालत के बारे में जानकारी दी। जिसके बाद 108 डायल कर वाहन बुलवाया व सेमलिया ले जाया गया। वहां सूचना देने वाले मुकेश बर्फा को बुलवाकर उक्त बुजुर्ग जहां गड्ढे में लेटे थे वहां पहुंचे व वहां पहुंचकर मनीष कुमट (जैन), ए एस आई बीएस बिलौरे, गोपाल विश्वकर्मा, योगेश पंवार आईएमटी कैलाश अहिरवाल, पायलट सुरेंद्र कुमार आदि ने उक्त बुजुर्ग को गड्ढे से बाहर निकाला तो देखा कि उक्त बुजुर्ग बोलने में और सक्षम था वह शरीर से पूरा लाचार होने के कारण वह कुछ बोल नहीं पा रहा था । जिसके बाद बुजुर्ग को पानी पिलाया गया। तत्पश्चात उपस्थित ग्रामीण कुंवर राज बहादुर सिंह राठौर, मुकेश बर्फा, दिनेश लछेटा, भेरूलाल कोटवाल, गोपाल बर्फा, राहुल मारु, बंटी लाल बर्फा, मांगीलाल चौधरी आदि की मदद से 108 में बैठा कर झकनावदा पदस्थ आरक्षक जितेंद्र के साथ पेटलावद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इलाज हेतु भेजा गया।

*फोटो : – असहाय बुजुर्ग को को मदद के लिए पहुंचे राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की टीम एवम ए एस आई बिलोरे।*

*फोटो :- 108 वाहन में बुजुर्ग को रवाना करते आयोग के सदस्य एवं एसआई*

READ ➩  माँ शारदा के वरद हस्त रोहित सरदाना को झकनावदा पत्रकार संघ ने दी श्रद्धांजलि
Share on:

Leave a Reply