advertisement
होम पेटलावद झकनावदा से राजस्थान के नारलाई माताजी अखण्ड ज्योत लेने के लिए 36...

झकनावदा से राजस्थान के नारलाई माताजी अखण्ड ज्योत लेने के लिए 36 यात्रियों का समूह रवाना

0
43
advertisement

*झकनावदा से राजस्थान के नारलाई माताजी अखण्ड ज्योत लेने के लिए 36 यात्रियों का समूह रवाना*

*करीब 600 किलोमीटर का सफर तय कर लाई जावेगी राजस्थान से अखण्ड ज्योत*

  1. झकनावदा {
    advertisement

    योगेश पंवार लोहार}आगामी 25 मई 2021 को क्षत्रिय सिर्वी समाज की कुलदेवी जी की झकनावदा में नवनिर्मित श्री आई माताजी मंदिर की भव्य रूप से प्राण प्रतिष्ठा होना है। जिसको लेकर झकनावदा सिर्वी समाज के करीब 36 लोगो का जत्था दिनांक 14 मार्च को श्री आई माताजी मंदिर परिसर से रवाना हुआ। जिसके पूर्व सभी लोगो ने माताजी के दर्शन किये साथ ही समाजजनों द्वारा समस्त यात्रियों का पुष्प माला पहनाकर स्वागत भी किया। आपको बता दे कि जो अखण्ड ज्योत राजस्थान से लाई जा रही है उसके मुख्य लाभार्थी राधेश्याम – गोपाल जमादारी परिवार है । इस अवसर पर समग्र सिर्वी समाजजनों ने यात्रियों को श्री आईमाताजी के जयकारों के साथ रवाना किया। साथ ही समस्त यात्री जाने में निजी वाहन से जावेगे ओर आने में 600 किलोमीटर बारी बारी से अखंड ज्योत हाथ मे लिए दिन रात पैदल चलकर वापस अपने लक्ष्य को प्राप्त कर झकनावदा मंदिर पहुंचेगे। साथ ही आई माताजी मित्र मंडल के सदस्य तेजमल चोयल ने बताया कि यह अखंड ज्योत राजस्थान के नारलाई माता जी से हम लोग लेकर अनवरत दिन रात बारी बारी से लेकर चलेंगे। ओर इस ज्योत का बड़ा ही महत्व है । साथ ही तेजमल ने बताया कि यह ज्योत जहाँ भी स्थापित कर अखण्ड चलाई जाती है वहा जरूर विशेष वार त्योहार पर माताजी की कृपा से केसर वर्षा होती है। साथ ही समाजसेवी हरिराम पड़ियार का कहना है कि यह अखण्ड ज्योत जो लाई जावेगी उसकी माताजी की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा के साथ उसकी भी विधिवत रूप से प्रतिष्ठा की जाएगी । जिससे समाज गाँव व आसपास के क्षेत्र में जैसे जैसे अखण्ड ज्योत निरन्तर चलने से समाज का विकास एवं उत्थान होगा एवं क्षेत्र में खुशहाली आएगी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे।

advertisement

कोई टिप्पणी नहीं है

Leave a Reply