Friday, April 23, 2021
होमकानपुरलोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला निंदनीय : कानपुर जर्नलिस्ट क्लब

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला निंदनीय : कानपुर जर्नलिस्ट क्लब

कानपुर :-लगातार देश के चौथे स्तंभ पत्रकारों के ऊपर हो रहे हमलो के क्रम में एक नई घटना फिर घटित हुई यूपी के मुरादाबाद में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने खूब उत्पात मचाया, यही नही मीडिया कर्मियों से मारपीट तक कर डाली इस दौरान एक पत्रकार जमीन पर गिर गया। हैरानी की बात है कि अखिलेश ने भी अपने कार्यकर्ताओं को रोकने का जरा भी प्रयास नही किया। उल्टा जब पत्रकारों ने अपनी बात कहनी चाही तो बीजेपी से कब सवाल पूछोगे कहकर पत्रकारों को ही लताड़ दिया,जिसके बाद अखिलेश की सुरक्षा में तैनात कमांडो द्वारा पत्रकारों को दौड़ा दौड़ा कर पीटा गया।

इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कानपुर जर्नलिस्ट क्लब ने आपातकालीन बैठक बुलाकर घटना की कड़ी निंदा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ट्वीट कर पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जाँच के एसआईटी का गठन कर कार्यवाही की मांग की तथा पत्रकारों पर हमला करने वाले कार्यकर्ताओ और कमाण्डो एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

जर्नलिस्ट क्लब के चेयरमैन सुरेश त्रिवेदी का घटना पर कहना है कि सच्चाई पूछ लो तो सपा मुखिया पत्रकार से ही जवाब तलब करते हैं। मुरादाबाद में उनकी मौजूदगी में पत्रकार के साथ मारपीट निंदनीय है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। यह लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। इससे सपा का चरित्र उजागर हो गया है। *जर्नलिस्ट क्लब के महामंत्री अभय त्रिपाठी* ने कहा कि पत्रकारों के साथ मारपीट करना शर्मसार करने वाली घटना है। पूरे प्रकरण में कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए वरना जर्नलिस्ट क्लब विरोध प्रदर्शन को बाध्य होगा।

इस मौके पर कानपुर जर्नलिस्ट क्लब के चेयरमैन सुरेश त्रिवेदी,महामंत्री अभय त्रिपाठी, सँयुक्त मन्त्री शैलेन्द्र मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार रवि पाण्डेय, कुमार त्रिपाठी, जीपी अवस्थी, मनोज मिश्रा, शानू अग्निहोत्री, गौरव त्रिपाठी के साथ भारी संख्या मे पत्रकारों ने कड़ा विरोध व्यक्त किया।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments